🔥 Use Code BLOG20 & Unlock 20% OFF on ALL Products. CLICK HERE!! 🔥

अनवांटेड किट खाने के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए? - Body Wise

क्या आपने अनवांटेड किट टेबलेट खायी है तो जाने अनवांटेड किट खाने के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए।


1 min read
अनवांटेड किट खाने के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए? - Body Wise

पीरियड्स देर से आने पर बहुत सी लड़कीयों को यह चिंता सताती है की कहीं वह प्रेग्नेंट तो नहीं हो गई। खासतौर पर जब आपने असुरक्षित सेक्स किया हो। ऐसे में आप घर पर ही अनवांटेड किट टैबलेट की मदद से अपनी प्रेंग्नेंसी को रोक सकते है। यह कैसे काम करती है और इसका इस्तेमाल कैसे करना है इस बारे में आपको पूर्ण जानकारी होना चाहिए।

अनवांटेड किट खाने के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए? - After How Many Days of Eating Unwanted Kit Should Do Pregnancy Test in Hindi?

अनवांटेड किट टैबलेट को खाने के २ सप्ताह बाद आपको एक विशेष प्रेग्नेंसी टेस्ट करने की आवश्यकता होगी। यह पुष्टि करने के लिए कि आप अब गर्भवती नहीं हैं।

डॉक्टर आपको चिकित्सीय गर्भपात के बाद विशेष गर्भावस्था परीक्षण करने के लिए किट देते है जिसे आप घर ले जा सकते है। इसे लो सेंसिटिविटी प्रेग्नेंसी टेस्ट कहा जाता है। यह सामान्य गर्भावस्था परीक्षण से अलग होता है। गर्भावस्था परीक्षण करने से पहले आपको प्रजनन उपचार करने के १४ दिन बाद तक इंतजार करना चाहिए।

अनवांटेड किट मूत्र में एचसीजी (ह्यूमन कोरियोनिक गोनाडोट्रोफिन) हार्मोन की मौजूदगी का पता लगाता है। निषेचन की प्रक्रिया पूरी होने पर और जब निषेचित अंडा गर्भाशय में स्थापित होता है तो उस समय शरीर में एचसीजी हार्मोन बनना शुरू हो जाते हैं। जब गर्भधारण होता है तब शुरूआती के दिनों में शरीर में एचसीजी हार्मोन का लेवल तेज हो जाता है यह हार्मोन महिला के मूत्र में उपस्थित रहता है। एचसीजी हार्मोन का महिला के पेशाब में होना यह दर्शाता है कि महिला गर्भवती हैं।

Having more doubts regarding pregnancy? Book a Free Doctor Consult with Be Bodywise & speak to an expert from the comforts of your home, hassle-free!

अनवांटेड किट कैसे काम करती है ? - How Unwanted Kit Works in Hindi

अनवांटेड किट टैबलेट दो दवाओं मिफेप्रिस्टोन और मिसोप्रोस्टोल से मिलकर बनती है जिससे गर्भावस्था को रोका जा सकता है। मिफेप्रिस्टोन प्रोजेस्टेरोन के प्रभाव को रोकने में सहायक है। प्रोजेस्टेरोन एक प्राकृतिक महिला हार्मोन है जो गर्भावस्था को बनाए रखने के लिए आवश्यक है। अगर यह हार्मोन नहीं बनता है तो इसके बिना, गर्भाशय (गर्भ) की परत मासिक धर्म के दौरान टूट जाती है और गर्भावस्था के विकास को रोक देती है। मिसोप्रोस्टोल गर्भपात का कारण बनने के लिए गर्भाशय के संकुचन को बढ़ाता है।

अनवांटेड किट टैबलेट को डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही लेना चाहिए। अगर आपने टैबलेट खायी है और उसके ३० मिनट के अंदर उल्टी का अनुभव हो रहा हैं तो डॉक्टर को सूचित करें। इस टैबलेट के सेवन के बाद आराम करना चाहिए क्योंकि इससे पेट में तेज दर्द या योनि से रक्तस्राव भी हो सकता है जिससे गर्भपात हो सकता है।

इस टेबलेट का सेवन करने के पहले अपने डॉक्टर को बताएं कि क्या आपको कभी अस्थानिक गर्भावस्था हुई है, या आप स्तनपान करा रही हैं या अंतर्गर्भाशयी उपकरण का उपयोग कर रही हैं। आपके डॉक्टर को आप उन दवाओं के बारे में भी बताएं जो आप ले रहे हैं क्योंकि इनमें से कई दवाएं इस दवा को कम प्रभावी बना सकती हैं या इसके काम करने के तरीके को बदल सकती हैं।

गर्भपात के दौरान भारी व्यायाम, दौड़ना और गाड़ी चलाना जैसी गतिविधियों को नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करना रक्तस्राव को प्रभावित कर सकता है। इस दवा के सबसे आम साइड इफेक्ट्स में दस्त, मतली, उल्टी और पेट में ऐंठन शामिल हैं। इनमें से कुछ भी महसूस होने पर अपने डॉक्टर को बताएं।

यह भी पढ़ें: गलती से प्रेग्नेंट हो जाए तो क्या करें?

निष्कर्ष :

अगर आपने भी अनवांटेड किट टेबलेट ली है तो इस तरह से इसका सेवन करना उचित रहता है। कोई से भी साइड इफ़ेक्ट गंभीर लगते है तो अपने डॉक्टर को बताएं। इनका इलाज किया जा सकता है और इन्हें कम किया जा सकता है।

GO TOP

🎉 You've successfully subscribed to Bodywise!
OK