🔥 Use Code BLOG20 & Unlock 20% OFF on ALL Products. CLICK HERE!! 🔥

Pregnancy Rokne Ke Upay in Hindi | प्रेगनेंसी रोकने के घरेलू उपाय

अनजाने में हो गई है प्रेग्नेंट तो इसे कैसे रोके जानिये प्रेगनेंसी रोकने के घरेलू उपाय यह प्राकृतिक तरीके प्रेगनेंसी रोकने में करेंगे आपकी मदद।


1 min read
Pregnancy Rokne Ke Upay in Hindi | प्रेगनेंसी रोकने के घरेलू उपाय

कुछ महिलाएं बिना बेबी प्लान के गलती से प्रेग्नेंट हो जाती है और अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए गर्भनिरोधक गोलियों खाती है जो लंबे समय में अपना असर दिखाती है। तो ऐसे में कई घरेलू उपचार करके गर्भधारण को रोका जा सकता हैं। यह उपाय प्राकृतिक तरीके से आपकी मदद करेंगे।


प्रेगनेंसी रोकने के घरेलू उपाय - Home Remedies to Stop Pregnancy in Hindi

प्रेगनेंसी को कैसे रोके कुछ तरीके हैं जिनसे प्रेगनेंसी को रोका जा सकता है।  

१. खुबानी

खुबानी एक फल है यह प्राकृतिक तरीके से भ्रूण के आरोपण को रोकने का काम करता है। इसका सेवन करने के लिए लगभग १०० ग्राम सूखे खुबानी लें।। इसे एक कप पानी में डाल दें अब इसमें २ बड़े चम्मच शहद भी मिला लें। इसे कम से कम १५ से २० मिनट तक उबालें उबालने के बाद आपको इस मिश्रण को पीना है।


२. सूखे अंजीर

अंजीर को स्वास्थ्य के लिए उत्तम मानते है और ऐसा माना जाता है की अंजीर गर्भ निरोधक तरीकों में सबसे बेहतरीन है। अंजीर रक्त परिसंचरण को बढ़ावा देता है जिससे रक्त का प्रवाह तेज होता है। अगर आपने असुरक्षित संभोग किया है तो आप उसके बाद सूखे अंजीर खा लें। इससे गर्भावस्था को रोकने में मदद मिल सकती है।

Tried every age-old remedy but still couldn't prevent acne? Book an online consultation with our dermatologist and get a personalized regime according to your skin type.

३. पपीता

असुरक्षित संभोग के बाद अवांछित गर्भावस्था को रोकने के लिए आप अगले 3-4 दिनों तक एक दिन में लगभग दो बार पपीते का सेवन करें। यह प्रेगनेंसी रोकने के घरेलू उपाय में से एक है। यदि पुरुष पपीता खाते है तो शुक्राणुओं की संख्या को कम किया जा सकता है और पपीता खाना बंद करने के बाद फिर से शुक्राणुओं की संख्या सामान्य हो जाती है।


४. अदरक

अदरक एक अवधि को प्रेरित करता है और गर्भावस्था को रोकता है अदरक खाने से गर्भावस्था को रोकने में मदद मिलती है। अदरक को कद्दूकस कर लें अब इसे एक कप पानी में डालें और पांच मिनट तक उबालकर छान लें इसे दिन में दो बार पिएं। चाय के रूप में भी आप अदरक का सेवन कर सकते है।


५. हपुषा जामुन

इसे काला जामुन भी कहते है। जुनिपर बेरीज भी गर्भावस्था को रोकने के उपायों की सूची में आता है। यह गर्भावस्था को रोकने में मदद कर सकते हैं। इस फल के मौसम में इसका सेवन करने से आपको फायदा दिखेगा।


६. दालचीनी

दालचीनी खाद्य पदार्थों में स्वाद जोड़ने का काम करती है, यह एक मसाला है लेकिन यह गर्भाशय को उत्तेजित करती है और गर्भपात का कारण बनती है। आपको इसका नियमित सेवन करना है तभी आप प्रेग्नेंसी को रोक सकती है।

Our 20% Vitamin C Face Serum help reduce wrinkles and dullness, giving your skin a youthful glow in just 2 months.

७. नीम

नीम एक शुक्राणुनाशक जड़ी बूटी है। जिसका उपयोग प्राचीन काल से गर्भनिरोधक के रूप में किया जाता रहा है। यह गर्भावस्था से बचने का एक उपाय है। गर्भाशय में नीम के तेल को इंजेक्ट करने से शुक्राणुओं को नष्ट किया जा सकता है।


८. हींग

गर्भधारण से बचने के लिए हींग को पानी में मिलाकर पीना असरदार हो सकता है। यह गर्भावस्था की संभावना को रोक सकता है। हींग का सेवन करने पर स्वाभाविक रूप से सेक्स के बाद गर्भधारण से बचा जा सकता है।


९. अनानास

कुछ लोगों का मानना ​​है कि अनानास के गुण गर्भधारण को रोकने का काम करते हैं। सेक्स के बाद अनियोजित गर्भावस्था से बचाते हैं। इसलिए गर्भावस्था को रोकने के लिए सेक्स के बाद २-३ दिनों तक हर दिन एक कच्चा अनानास खाने की सलाह दी जाती हैं।

१०. अजमोद

संभोग के बाद प्राकृतिक रूप से गर्भधारण को रोकने के लिए अजमोद भी एक प्रभावी उपाय है। आप इसे एक हल्के जड़ी बूटी के रूप में सेवन कर सकते हैं इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं होगा।


११. विटामिन सी की गोलियां

प्रेगनेंसी से कैसे बचे तो इसके लिए विटामिन सी एक और प्रभावी उपाय है। विटामिन "प्रोजेस्टेरोन" हार्मोन के साथ हस्तक्षेप करता है और इस प्रकार गर्भाधान को रोकता है। असुरक्षित यौन संबंध बनाने के बाद २-३ दिनों तक दिन में २ बार लगभग १५०० मिलीग्राम विटामिन सी की गोलियां लें।

१२. पेनिरॉयल (स्पीयरमिंट)

अनचाहे गर्भ को रोकने के लिए पेनिरॉयल भी एक अच्छा विकल्प साबित होता है। यह एक प्राचीन विधि है जो सबसे अधिक सहायक है इस जब जड़ी बूटी को चाय में मिलाया जाता है और छोटी मात्रा में लिया जाता है। आवश्यकता से अधिक इसका सेवन ना करने नहीं तो जहरीली प्रतिक्रिया भी हो सकती है।

१३. भारतीय शलजम

गर्भावस्था को रोकने के लिए एक और घरेलू उपाय है। भारतीय शलजम यह संभोग के बाद एक सप्ताह तक गर्भधारण को रोक सकता है। आधा गिलास पानी में एक चम्मच सूखे और पिसे हुए जड़ को मिला लें।। यदि आप पहले भारतीय शलजम खा चुके हैं तो आप इसे आजमा सकते हैं  इसे हफ्ते में कम से कम दिन में दो बार रोजाना पिएं।


१४. कुट्टू

एक प्रकार का अनाज कुट्टू (रटिन) आरोपण को रोकता है गर्भावस्था रोकने के लिए रोज ५००  ग्राम कुट्टू का सेवन करे। लेकिन चिकित्सा विज्ञान इस मिथक का समर्थन नहीं करता है। इसलिए डॉक्टर से इसके बारे में पूछकर इसका सेवन करें।


१५. जंगली याम (रतालू)

प्रेग्नेंसी से बचने के लिए एक या दो महीने तक नियमित रूप से दिन में दो बार एक जंगली रतालू खाना भी जन्म नियंत्रण उपाय के रूप में काम करने के लिए माना जाता है। यह गर्भधारण को रोक सकता है।


१६. क्वीन ऐनीज़ लेस

क्वीन ऐनीज़ लेस या जंगली गाजर का बीज प्रोजेस्टेरोन संश्लेषण को बाधित करके अंडे के आरोपण को रोकता है। असुरक्षित संभोग के तुरंत बाद इसके बीजों को सात दिन तक खाना चाहिए। इसे काढ़ा या चाय के रूप में भी ले सकते हैं।

१७. कपास की जड़ की छाल

कपास की जड़ की छाल सूख जाने पर गर्भधारण को रोकने वाली जड़ी-बूटी बन जाती है। सूखे कपास की जड़ को जब चाय के रूप में ली जाती है या पानी में उबाला जाता है तो यह हार्मोन ऑक्सीटोसिन की रिहाई को उत्तेजित करता है जो गर्भावस्था को रोकता है।

Use our 10% Niacinamide Serum that helps fade acne marks and dark spots from the face and can help improve your skin texture in just 2 months.


१८. ब्लैक एंड ब्लू कोहोश

ब्लैक एंड ब्लू कोहोश जड़ी-बूटियां ऑक्सीटोसिन हार्मोन की रिहाई को उत्तेजित करती हैं जिससे गर्भाशय की दीवारों का संकुचन होता है और गर्भावस्था को रोकता है। इसकी कितनी खुराक लेना है इसके बारे में डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।


१९. कंडोम

प्रेग्नेंसी रोकने के लिए यह गर्भनिरोधक की सबसे लोकप्रिय बाधा विधि है। संभोग के दौरान कंडोम का उपयोग करने से सुरक्षित जन्म नियंत्रण में मदद मिलती है। यह दुर्लभ है कि यह विधि विफल हो सकती है। किसी भी संक्रमण से बचने के लिए कंडोम का उपयोग करते समय उचित स्वच्छता सुनिश्चित करनी चाहिए।


२०. तापमान विधि

ओव्यूलेशन के परिणामस्वरूप शरीर का तापमान बढ़ जाता है। ओव्यूलेशन होने के दिन का पता लगाने के लिए शरीर के तापमान को दिन में तीन बार रिकॉर्ड करें। इन दिनों संभोग को रोकना या सुरक्षा का उपयोग करना अवांछित गर्भधारण से बचने में सहायक हो सकता है।

गर्भनिरोधक के प्राकृतिक तरीकों को अपनाते समय ध्यान रखने योग्य बातें - Things to Keep in Mind While Adopting Natural Methods of Contraception in Hindi

प्रेगनेंसी रोकने के उपाय करते समय आपको किसी भी उपाय को करने के पहले कुछ बातों का ध्यान रखना होगा।

  • जब भी आप गर्भ निरोधक उपाय करे तो आपने स्वस्थ भोजन का सेवन किया हो यह आपको सुनिश्चित करना है। स्वस्थ भोजन खाने के बाद ही गर्भ निरोधक उपाय करना चाहिए।
  • गर्भ निरोधकों के रूप में जो जड़ी-बूटियां और खाद्य पदार्थ बताये गए है वह ना ही १००% प्रभावी हैं और ना ही 100% दुष्प्रभावों से मुक्त हैं। ऐसा भी हो सकता है की कुछ उपाय से लंबे समय के लिए गंभीर समस्या हो सकती है।
  • अगर आप गर्भावस्था से बचना चाहती है तो आपको कोई सा भी उपाय करने के पहले स्त्री रोग विशेषज्ञ से परामर्श करना चाहिए।
  • आपने कोई उपाय किया है और आपको स्वास्थ्य ठीक नहीं लग रहा या कुछ असामान्य स्वास्थ्य प्रभाव का अनुभव हो रहा है तो इसका उपयोग करना बंद कर दे।

अनचाही गर्भावस्था को रोकने के लिए घरेलू उपचार उतने कारगर साबित नहीं होते जितने की गर्भनिरोधक गोलियां, कंडोम या अन्य गर्भ निरोधक उपकरण होते है। यदि आप उपरोक्त तरीकों को अपना रही है तो किसी एक तरीके को भी अपनाते समय सुरक्षित संभोग करना ही हमेशा सबसे अच्छा विकल्प होता है। कुछ भी आजमाने से पहले डॉक्टर से सलाह लें।

निष्कर्ष :

यदि आप भी अपनी अनचाही प्रेग्नेंसी को रोकना चाहते है तो ऊपर बताये गए उपाय अपना सकते है। फैमिली प्लान ना होने पर असुरक्षित सेक्स का विचार गलत होता है। इसलिए सुरक्षित सेक्स ही करें ताकि आपको अनचाही प्रेग्नेंसी का सामना ना करना पड़े किसी भी तरह का उपाय करने के पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

GO TOP

🎉 You've successfully subscribed to Bodywise!
OK